Please wait...

Pressvarta

In detail

Awesome Image
17
November

भाजपा की दूसरी पारी पडेगी भाजपा पर भारी

सिरसा (प्रैसवार्ता ) सत्ता सुख के लिए भाजपा हरियाणा ने अपनी दूसरी पारी के लिए जजपा से गठबंधन करके राज्य के भाजपाइयों की बेचैनी बढा दी है,क्योंकि पहली पारी में जनभावनाओं पर खरा न उतरने में विफल रही भाजपा को विधानसभा चुनाव में हरियाणा के मतदाताओं ने आईना दिखाते हुए जजपा से तालमेल करने पर मजबूर कर दिया है। भाजपा जजपा की गठबंधनीय सरकार को लेकर राज्य की राजनीति क्यासों की चपेट में है। गठबंधनीय गांठ कब तक मजबूती पकडे रखेगी, इस प्रश्न का उत्तर प्रश्न के गर्भ में है,मगर राज्य के राजनीतिक जादूगरों ने गांठ खोलने के प्रयास शुरू कर दिये हैं। गठबंधनीय सरकार को लेकर सबसे बडी बेचैनी भाजपाइयों में है,जो उनके दिग्गजों को राजनीतिक पटकनी देने वालों की चौधर को कैसे सहन करें ? दोनों दलों का प्रयास रहेगा कि अपनी अपनी पार्टी का जनाधार बढाया जाये। प्रश्न यह उठता है कि राज्य में विधानसभा चुनाव में एक दूसरे से राजनीतिक मतभेद बनाने वाले भाजपाई व जजपाई एक ही मंच पर नजर आयेंगे, क्योंकि गठबंधन सत्ता सुख के लिए हुआ है,न कि भाजपा जजपा के समर्थकों के लिए। हरियाणा के मतदाताओं ने भाजपा शासन से नाराजगी के चलते जजपा पर विश्वास बनाया था,जिसपर जजपा ने जन विश्वास को ही विश्वास योग्य नहीं समझा। भाजपाई दिग्गजों की सियासी लुढकन और जजपाईयों की चौधर से राज्य के भाजपाइयों को गहरा झटका लगा है,जो भाजपाई जनाधार कैसे बढा पायेगा, इससे भाजपा का शीर्ष नेतृत्व चिंतित है। राजनीतिक पंडित मानते है कि भाजपा की दूसरी पारी भाजपाइयों पर भारी रहेगी और भाजपाई जनाधार धीरे-धीरे खिसकेगा।